August 18, 2022

नई दिल्ली, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को नेशनल हेराल्ड मामले की जांच में शामिल होने के लिए 21 जुलाई को तलब किया है। इससे पहले वह जांच में शामिल नहीं हो सकी थी, क्योंकि वह अस्वस्थ थीं। ईडी के सूत्रों ने कहा कि उनसे वही सवाल पूछे जाएंगे जो राहुल गांधी से उनकी पांच दिवसीय पूछताछ के दौरान पूछे गए थे।

23 जून को होने वाली उसकी पूछताछ को उनके अनुरोध पर स्थगित कर दिया गया क्योंकि वह अस्वस्थ थीं।

ईडी सूत्रों ने कहा, “हमें यंग इंडिया और एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) के बीच सौदे में उनकी भूमिका के बारे में पूछना है।”

इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था कि स्वर्गीय मोतीलाल वोरा इन सभी मामलों को देख रहे थे। यंग इंडिया में वोरा की 12 प्रतिशत हिस्सेदारी थी जबकि राहुल और सोनिया के पास 76 प्रतिशत हिस्सेदारी थी।

ईडी के अनुसार, पूरे सौदे में गांधी परिवार प्रमुख लाभार्थी हैं। इससे पहले पवन बंसल और मल्लिकार्जुन खड़गे से ईडी पूछताछ कर चुकी है। जब से वोरा का निधन हुआ है तब से संदेह की सुई गांधी परिवार की ओर इशारा कर रही है।