June 27, 2022
General Haryana Panchkula

Helicopter की मदद से बुझाई गई कसौली के जंगलों की आग

एयरफोर्स के Helicopter ने कौशल्या डैम से पानी लेकर बुझाई आग

पंचकुला पुलिस ने कौशल्या डैम के पास दिखाई मुस्तैदी

YouTube player

कसौली के जंगलों में लगी भंयकर आग पर सोमवार को एयरफोर्स की मदद से काबू पाया जा सका। ये आग रविवार सुबह कसौली एयरफोर्स स्टेशन केपास hilltop से शुरू हुई थी जो धीरे धीरे अपना दायरा बढ़ाती जा रही थी। आग जिस जगह तेज़ी से फैलती जा रही थी वहां तक दमकल की गाड़ियों के पहुंचने की सुविधा नहीं थी लिहाजा एयरफोर्स की मदद मांगी गई। क्योंकि आग के रिहायशी इलाकों तक फैलने की आशंका जताई जाने लगी थी। बताया जा रहा है कि इस आग को बुझाने  में एयरफोर्स और पंचकूला पुलिस ने पूरे दिन ऑपरेशन जारी रखा..आग बुझाने के क्रम में चार लोग जख्मी भी हो गए। इनमें तीन दमकल विभाग के कर्मी हैं जबकि एक local contractor, Rishu Aggarwal है।Panchkula के deputy commissioner Mahavir Kaushik  का कहना है कि उन्हें चंडीमंदजिर कैन्टोनमेंट से फोन पर आग लगने की जानकारी दी गई थी। एयरफोर्स authorities ने कौशल्या Dam से पानी लेने की इजाज़त मांगी थी। ताकि आग को बुझाने का काम तेज़ी से किया जा सके। महावीर कौशिक का कहना है कि रविवार शाम तक और फिर सोमवार सुबह को भी एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर ने कौशल्या डैम से पानी लेकर आग पर डालने का काम किया तब जाकर आग को शांत किया जा सका। पंचकूला पुलिस इस पूरे ऑपरेशन के दौरान कौशल्या डैम के पास मुस्तैदी से तैनात रही। ताकि एयरफोर्स पानी लेने का काम आसानी से कर सके।

Amravati Enclave police post के in-charge ASI Narender Singh ने बताया है कि पुलिस को इस काम में लगाया गया कि ऑपरेशन के दौरान स्थानीय लोग डैम के पास न जाने पाए। कसौली में कोई फायर स्टेशन नहीं है इसीलिए आग बुझाने के लिए सोलन और परवाणू के fire station से गाड़ियां भेजी गई थीं। जिन्हें पहुंचने में डेढ़ घंटे का वक्त लग गया। जो लोग इस आगजनी में घायल हुए हैं उन्हें 10 से 30 फीसदी बर्न इंजरीज़ हुई हैं। उनका उपचार चंडीगढ़ पीजीआई मे किया जा रहा है। घायलो की पहचान fire brigade driver Jagdish Sharma, fireman Mohinder Sharma home guard personnel Satish Kumar और लोकल कॉन्ट्रैक्टर रिशु अग्रवाल के तौर पर की गई है। कहा जा रहा है कि तेज़ हवाओं के चलते आग तेज़ी से फैलती चली गई और उसने विकराल रुप ले लिया।

Leave feedback about this

  • Service