July 24, 2024
Sports

अफगानिस्तान से भारत को रहना होगा सावधान : उमेश पटवाल

 

मुंबई, अफगानिस्तान के पूर्व बैटिंग कोच उमेश पटवाल ने भारत को चेतावनी दी है कि सुपर-8 मुकाबले में अफगानिस्तान का सामना करते समय बिल्कुल सावधान रहे। भारत और अफगानिस्तान के बीच गुरुवार को बारबाडोस में ये मैच खेला जाएगा।

अफगानिस्तान बड़े मंच पर व्हाइट-बॉल टूर्नामेंट में बड़ी टीमों को पछाड़ने का माद्दा रखता है।

भारत पुरुषों के टी20 में अफगानिस्तान से आठ बार भिड़ चुका है और इस प्रारूप में हमेशा जीत भारत की हुई है।

पिछली बार जब वे इस साल बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में भिड़े थे, तो भारत और अफगानिस्तान के बीच मुकबला 212-212 रन के ड्रॉ पर पहुंच गया। फिर, रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम को जीत के लिए दो सुपर ओवर खेलने पड़े।

उमेश पटवाल ने आईएएनएस से बातचीत में कहा, “भारत को वाकई सावधान रहना होगा। पिछले साल के वनडे विश्व कप में अफगानिस्तान ने इंग्लैंड और दूसरी बड़ी टीमों को हराकर दिखाया कि वे क्या कर सकते हैं। मुझे लगता है कि अब तक उसने जिस टीम को नहीं हराया है, वह भारत है। इसलिए उसके दिमाग में अगला लक्ष्य यही होगा।

“इसलिए, इस बार भारत को अफगानिस्तान का सामना करने के लिए मजबूत रणनीति बनानी होगी। सुपर आठ में आने पर कोई भी इतना बड़ा मौका नहीं गंवाना चाहता। मुझे याद है कि 2018 में एशिया कप में दुबई में उनका भारत के साथ मुकाबला था। इसलिए इस बार वे एक कदम आगे बढ़ना चाहेंगे, चाहे वह भारत हो या ऑस्ट्रेलिया।”

भारत और अफगानिस्तान के अलावा, ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश सुपर आठ में ग्रुप-1 में शामिल हैं।

उमेश पटवाल ने कहा, “पिछले साल वनडे विश्व कप में एक महत्वपूर्ण मैच में ग्लेन मैक्सवेल ने दोहरा शतक जमाकर अफगानिस्तान को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था। इसलिए उनके लिए वापसी का यह समय है। ये सभी चीजें खिलाड़ियों के दिमाग में होंगी।”

पटवाल ने कहा, “मुझे पूरी उम्मीद है कि वे शीर्ष चार में होंगे, इसलिए सुपर आठ में अपने ग्रुप से शीर्ष दो में उन्हें देखकर आपको आश्चर्य नहीं होगा। मुझे हमेशा उम्मीद थी कि वे सेमीफाइनल खेलेंगे और पिछले साल वनडे विश्व कप के दौरान भी मुझे यही उम्मीद थी। अगर वे यहां अंतिम चार में पहुंचते हैं तो मुझे आश्चर्य नहीं होगा, क्योंकि वे बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।”

पूर्व बल्लेबाजी कोच यह भी चाहते हैं कि अफगानिस्तान, भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करे और फिर दूसरी पारी में मजबूत टीमों पर दबाव बनाए।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ, वे टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर सकते हैं और फिर सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे दूसरी पारी में उन पर बहुत दबाव डालें।

 

Leave feedback about this

  • Service