June 28, 2022
Delhi National

अग्निपथ योजना’ के विरोध में प्रदर्शन, ट्रेनों का परिचालन प्रभावित, 22 ट्रेनें रद्द

पटना,  बिहार में सेना भर्ती के अग्निपथ योजना के विरोध में गुरुवार को भी कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी रहा। इस क्रम में सैकड़ों छात्र सड़क और रेल पटरियों पर उतरे, जिससे यातायात बुरी तरह प्रभावित रहा। रेलवे स्टेशनों और रेल पटरियों पर प्रदर्शन करने के कारण रेल परिचालन पर इसका प्रभाव पड़ा है। पूर्व मध्य रेलवे में कई ट्रेनों के परिचालन को रद्द कर दिया गया है।

अग्निपथ योजना के विरोध में प्रदर्शनकारी सुबह में ही कई रेलवे स्टेशनों पर पहुंचे गए और इस योजना को वापस लेने की मांग को लेकर हंगामा करने लगे। प्रदर्शन के कारण कई ट्रेनों को जहां-तहां रोक दिया गया। पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी वीरेंद्र कुमार ने गुरुवार को बताया कि धरना और प्रदर्शन के कारण ट्रेनों के परिचालन में बदलाव किया है।

उन्होंने बताया कि विभिन्न मार्गों से गुरुवार को चलने वाली 22 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है जबकि पांच ट्रेनों का आंशिक समापन कराया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि रद्द की गई ट्रेनों में भभुआ रोड-पटना एक्सप्रेस, पटना-सहरसा एक्सप्रेस, सहरसा-समस्तीपुर पैसेंजार (स्पेशल), मनिहारी-जयनगर एक्सप्रेस, पटना डीडीयू मेमू पैसेंजर स्पेशल, दानापुर -रघुनाथपुर मेमू पैसेंजर स्पेशल, समस्तीपुर-सोनपुर पैसेंजर स्पेशल, पटना-गया पैसेंजर स्पेशल ट्रेनें शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि पांच ट्रेनों को गंतव्य से पहले ही रोक दिया गया है। उन्होंने बताया समस्तीपुर-सहरसा डेमू पैसेंजर स्पेशल का आंशिक समापन इमली में किया गया है जबकि पूर्णिया-सहरसा डेमू पैसेंजर स्पेशल को दौरभ मधेपुरा में, समस्तीपुर-सहरसा डेमू पैसेंजर स्पेशल का आंशिक समापन सोनवर्षा कचहरी में तथा नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर पैसेंजर स्पेशल का आंशिक समापन मझौलिया में कराया जाएगा।

अग्निपथ योजना के विरोध में दिल्ली में ट्रेन रोकी गई
Train stopped in Delhi over protest against Agnipath Scheme.

लोगों के एक समूह ने गुरुवार को रेलवे भर्ती परीक्षा में देरी और नई शुरू की गई अग्निपथ योजना का विरोध किया और बाद में इन्होंने राष्ट्रीय राजधानी में एक ट्रेन को रोक दिया। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

पुलिस उपायुक्त (बाहरी जिला) समीर शर्मा ने कहा, “लगभग 15-20 लोग रेलवे स्टेशन नांगलोई पर एकत्र हुए और रेलवे भर्ती परीक्षाओं में देरी और हाल ही में शुरू की गई अग्निपथ योजना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।”

इसके बाद नांगलोई थाना के थाना प्रभारी तुरंत मौके पर पहुंचे और प्रदर्शनकारी से शांतिपूर्वक रेलवे ट्रैक खाली करने का अनुरोध किया।

डीसीपी शर्मा ने कहा, “उनकी बात को शांति से सुना गया, जिसमें उन्होंने कहा कि उन्होंने 2-3 साल पहले कुछ सरकारी परीक्षा के लिए फॉर्म भरा था, लेकिन भर्ती के लिए परीक्षाएं अभी तक आयोजित नहीं की गई हैं, और वे अब अधिक उम्र के हो गए हैं।”

हालांकि, पुलिस प्रदर्शनकारियों को शांत करने में सफल रही और भीड़ को तितर-बितर कर दिया गया। शर्मा ने कहा, “स्थिति अब नियंत्रण में है और सभी छात्र रेलवे ट्रैक से हट गए हैं।”

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंगलवार को भारतीय युवाओं के लिए सशस्त्र बलों में सेवा देने के लिए ‘अग्निपथ’ भर्ती योजना को मंजूरी दी। इस योजना के तहत चयनित युवाओं को ‘अग्निवीर’ के रूप में जाना जाएगा।

इनमें से करीब 46,000 की भर्ती इस साल की जाएगी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यह योजना एक परिवर्तनकारी पहल है और इसके तहत भारतीय युवाओं को सशस्त्र बलों में सेवा करने का अवसर मिलेगा। सिंह ने कहा, “इस योजना से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और इसका उद्देश्य सशस्त्र बलों का युवा प्रोफाइल बनाना है।”

 

Leave feedback about this

  • Service