June 27, 2022
Punjab

पंजाब के पूर्व शिक्षा मंत्री जत्थेदार तोता सिंह का निधन

पंजाब – पंजाब के पूर्व शिक्षा मंत्री तोता सिंह का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वे निमोनिया से पीड़ित थे। तोता सिंह अकाल दल के वरिष्ठ नेता थे जिनकी आयु 81 वर्ष की थी। सिंह के निधन पर शिअद के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल सहित कई नेताओं ने गहरा शोक जताया है। शिरोमणी समिति अध्यक्ष ने सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की तथा उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की और कौम की नौजवान नेतृत्व को उनके जीवन और पंथक भावना से प्रेरित होने को आग्रह किया।

जत्थेदार तोता सिंह पार्टी में बड़े पदो पर रहे
1970 में उन्हें ब्लॉक समिति के सदस्य के रूप में चुना गया था. 1970 के दशक में जब फरीदकोट को फिरोजपुर जिले से अलग किया गया था, तब तोता सिंह पार्टी के जिलाध्यक्ष चुने गए थे और 17 साल तक इस पार्टी के पद पर रहे. 1978 में उन्हें पार्टी की केंद्रीय कार्य समिति के सदस्य के रूप में नामित किया गया था और तब से वे पार्टी के प्रमुख पदों पर रहे। 1979 में उन्हें SGPC के सदस्य के रूप में चुना गया। उन्हें इस धार्मिक निकाय की शिक्षा समिति का वरिष्ठ उपाध्यक्ष और प्रमुख बनाया गया था। वे इस पद पर 1996 तक 17 वर्षों तक रहे। तोता सिंह दो बार मोगा, एक बार धर्मकोट विधानसभा से विधायक भी रहे थे। वह पहली बार 1997 में मोगा विधानसभा सीट से चुनाव जीते और बादल सरकार में उन्हें शिक्षा मंत्री के रूप में कैबिनेट का दर्जा मिला था।

 

 

Leave feedback about this

  • Service