June 29, 2022
Punjab

सिद्धू मूसेवाला का गाना ‘द लास्ट राइड’ मंगलवार को बजाया जाएगा

गैंगस्टरों की गोली से मारे गए सिद्धू मूसेवाला का नया गाना ‘द लास्ट राइड’ मंगलवार को पंजाब के मानसा जिले स्थित उनके पैतृक गांव मूसा में बजाया जाएगा। उनके परिवार ने यह जानकारी दी।
पिता की सहमति लेने में काफी देर होने के बाद मानसा के सिविल अस्पताल में पटियाला और फरीदकोट मेडिकल कॉलेजों के डॉक्टरों की पांच सदस्यीय फोरेंसिक टीम ने मूसेवाला के शव का पोस्टमॉर्टम किया। मंगलवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

मूसेवाला के सैकड़ों प्रशंसक और अनुयायी श्रद्धांजलि देने के लिए उनके महलनुमा बंगले के बाहर जमा हो गए। अधिकारियों ने आईएएनएस को बताया कि गायक से नेता बने मूसावाला के रोते हुए माता-पिता ने अपने इकलौते बच्चे के पोस्टमॉर्टम के लिए सहमति तब दी, जब मुख्यमंत्री भगवंत मान ने हत्या की जांच के लिए पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट के मौजूदा न्यायाधीश के तहत एक न्यायिक आयोग गठित करने की घोषणा की।

मूसेवाला का गाना ‘द लास्ट राइड’ कथित तौर पर रैपर तुपैक शकूर को श्रद्धांजलि थी, जिनकी 1996 में 25 साल की उम्र में उनकी कार में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मूसेवाला (28) का असली नाम शुभदीप सिंह सिद्धू है। रविवार को मानसा जिले में वाहन चलाते समय उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई। मूसेवाला को अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। मूसेवाला की हत्या में शामिल होने के संदेह में पुलिस ने देहरादून से पांच लोगों को हिरासत में लिया है।

हत्या की जांच के दौरान दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ को पता चला है कि तिहाड़ जेल के एक कैदी शाहरुख ने कनाडा में किसी को फोन किया था। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने यहां राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात कर हत्या के लिए मुख्यमंत्री को जिम्मेदार ठहराते हुए उन्हें उनके पद से बर्खास्त करने का आग्रह किया है।

राज्यपाल को दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि मान ने मूसेवाला की सुरक्षा वापस लेने की गोपनीय सूचना जारी कर पद की शपथ का उल्लंघन किया। अकाल तख्त के जत्थेदार और अन्य प्रमुख हस्तियों की सुरक्षा वापस लेने की सूचना आम आदमी पार्टी (आप) के पोर्टल पर जारी की गई। इसलिए मान के खिलाफ मामला दर्ज किया जाना चाहिए। बादल ने मूसेवाला की हत्या की राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से जांच कराने की मांग करते हुए कहा, “मुख्यमंत्री एक मिनट भी और पद पर बने रहने के लायक नहीं हैं।”

आलोचनाओं का सामना कर रहे पुलिस महानिदेशक वी.के. भावरा ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने मारे गए गायक मूसेवाला को कभी भी गैंगस्टरों से नहीं जोड़ा है। प्रासंगिक रूप से, मुख्यमंत्री मान ने यहां अपनी प्रेस कॉन्फस के दौरान एक दिन पहले डीजीपी द्वारा दिए गए मूसेवाला पर दिए गए एक बयान पर स्पष्टीकरण मांगा है।

अपने बयान को स्पष्ट करते हुए डीजीपी ने कहा कि सिद्धू मूसेवाला के लिए उनके मन में सबसे ज्यादा सम्मान है और वह पंजाब के एक प्रसिद्ध कलाकार और सांस्कृतिक प्रतीक थे। डीजीपी ने कड़े शब्दों में हत्या की निंदा की और कहा कि जांच जारी है और अपराधियों को न्याय दिलाने के लिए जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

डीजीपी भवरा ने आगे कहा कि उन्होंने कभी भी यह नहीं कहा कि मूसेवाला एक गैंगस्टर था या गैंगस्टरों से जुड़ा था।डीजीपी ने आगे कहा कि लॉरेंस बिश्नोई गिरोह की ओर से गोल्डी बराड़ ने जिम्मेदारी ली है। जांच में हत्या के सभी पहलुओं की जांच की जाएगी।

Leave feedback about this

  • Service