June 28, 2022
National World

अभद्र भाषा मामले में बोले चिदंबरम- आंतरिक प्रतिक्रिया ने भाजपा को कार्रवाई के लिए मजबूर किया

नई दिल्ली, भाजपा के दो नेताओं को पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ उनकी विवादित टिप्पणी को लेकर सियासत गरमा गई है। हालांकि भाजपा ने इन दोनों नेताओं को निलंबित कर दिया है, मगर फिर भी विपक्षा केंद्र सरकार पर हमलावर हो रही है। कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने सोमवार को भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यह अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया थी जिसने पार्टी को कार्रवाई करने के लिए मजबूर किया। उन्होंने कहा, “घरेलू आलोचना ने भाजपा को दो प्रवक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए मजबूर नहीं किया। यह केवल अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया थी जिसने भाजपा को कार्रवाई करने के लिए प्रेरित किया।”

उन्होंने कहा, “श्रीमती नुपुर शर्मा और श्री नवीन कुमार इस्लामोफोबिया के मूल क्रिएटर्स नहीं थे, याद रखें, वे राजा से अधिक वफादार होने की कोशिश कर रहे थे।” रविवार को, कांग्रेस ने पार्टी प्रवक्ता नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ भाजपा की कार्रवाई पर भाजपा की जमकर खिंचाई की, इसे स्पष्ट रूप से ढोंग करार दिया। पार्टी महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “बीजेपी का आज का बयान ‘किसी भी विचारधारा के खिलाफ है जो किसी भी संप्रदाय या धर्म का अपमान करता है’ एक खुले तौर पर नकली ढोंग के अलावा और कुछ नहीं है।”

सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा और उसके षडयंत्रों ने भारत के सदियों पुराने ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ के सभ्यतागत लोकाचार का बार-बार अपमान किया है, एक समुदाय और धर्म को दूसरे के खिलाफ ध्रुवीकरण, बांटने और नफरत फैलाने के लिए लगातार खड़ा किया है। किसी भी धार्मिक शख्सियत के अपमान की निंदा करने के कुछ घंटों बाद, भाजपा ने रविवार को पार्टी प्रवक्ता नुपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल को पैगंबर मुहम्मद पर उनकी टिप्पणियों के लिए निलंबित कर दिया।

शर्मा पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और जिंदल भाजपा दिल्ली इकाई के प्रवक्ता और मीडिया विभाग के प्रमुख हैं।

Leave feedback about this

  • Service