December 5, 2022
World

इमरान की हत्या की कोशिश के बाद पूरे पाकिस्तान में विरोध प्रदर्शन, लोगों में आक्रोश

इस्लामाबाद, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के समर्थक पार्टी प्रमुख और पूर्व पाक प्रधानमंत्री इमरान खान की हत्या की कोशिश के खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में सड़कों पर उतर आए हैं। रिपोटरें के अनुसार, पीटीआई समर्थक खैबर-पख्तूनख्वा (के-पी) पेशावर टोल प्लाजा पर इकट्ठा हुए। पेशावर जिले के सभी कार्यकर्ता टोल प्लाजा पर विरोध प्रदर्शन की तैयारी में हैं। इस बीच, रावलपिंडी में चकबेली मोड़ से जीटी रोड को जाम कर दिया गया, जहां हिंसक विरोध प्रदर्शन किए गए। विरोध स्थल पर मोटर-वे (ट्रैफिक) पुलिस और जिला पुलिस दोनों की भारी मौजूदगी देखी गई।

प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों के टायरों में भी आग लगा दी और सड़क जाम कर दिया। जाम की वजह से सड़क पर जा रहे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। रावलपिंडी के अल्लामा इकबाल पार्क के बाहर भी पीटीआई कार्यकर्ता जुटने लगे। पार्टी विधायक अली नवाज और खुर्रम नवाज भी कार्यक्रम स्थल पर मौजूद हैं। एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने बताया कि पीटीआई के मुताबिक कराची में इंसाफ हाउस के बाहर लोग विरोध प्रदर्शन के लिए इकट्ठा होने लगे।

संघीय राजधानी की पुलिस ने रावलपिंडी प्रशासन से फैजाबाद में विरोध प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों को अवैध कार्रवाई करने से रोकने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया और वह लाठी और गुलेल लिए हुए थे। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पाक के आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा है कि यदि हालात सुधरते हैं (हिंसक घटनाएं न हों), तो सत्ताधारी दल इमरान खान के स्वास्थ्य के बारे में व्यक्तिगत रूप से जानकारी लेने को तैयार हैं।

सनाउल्लाह ने कहा, इससे पहले जब इमरान खान के साथ हादसा हुआ था, नवाज शरीफ उनकी तबीयत का हाल जानने गए थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री खान के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ करने पर विचार कर रहे हैं और इस पर जल्द ही फैसला लेंगे। अपने खिलाफ पीटीआई द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए राणा सनाउल्लाह ने कहा कि, वह इमरान खान को एक राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के रूप में देखते हैं, दुश्मन के रूप में नहीं।

जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक सनाउल्लाह ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, हम इमरान खान को दुश्मन नहीं बल्कि राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के रूप में देखते हैं। इमरान खान राजनीतिक विरोधियों को दुश्मन के रूप में देखते हैं। मंत्री ने यह भी बताया कि संदिग्ध पुलिस की हिरासत में है और उसका बयान गुजरात (पाकिस्तान) में दर्ज किया गया था। सनाउल्लाह ने कहा, घटना की कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। हो सकता है कि वह अपनी इच्छा के अनुसार प्राथमिकी दर्ज करने की कोशिश कर रहे हों।

जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, पीटीआई के महासचिव असद उमर ने गुरुवार को कहा कि पार्टी अध्यक्ष इमरान खान को शक है कि उनकी हत्या की कोशिश के पीछे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह और एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी शामिल हैं। असद ने पार्टी नेता मियां असलम इकबाल के साथ एक बयान के दौरान कहा, इमरान खान ने कहा है कि उन्हें पहले से ही जानकारी थी कि ये लोग उनकी हत्या करवाना चाहते हैं।

जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, असद ने पीटीआई अध्यक्ष के हवाले से मांग की कि तीनों लोग-प्रधानमंत्री, आंतरिक मंत्री और वरिष्ठ सैन्य अधिकारी को उनके कार्यालय से हटा देना चाहिए।

Leave feedback about this

  • Service