December 1, 2022
World

फिनलैंड, स्वीडन ने एक साथ नाटो में शामिल होने का संकल्प लिया

हेलसिंकी, फिनलैंड और स्वीडन के बीच सहयोग बढ़ाने के तरीके स्वीडन के नव-निर्वाचित प्रधान मंत्री उल्फ क्रिस्टर्सन और उनके मेजबान और फिनिश समकक्ष सना मारिन द्वारा हेलसिंकी में आयोजित वार्ता के एजेंडे में सबसे ऊपर है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, दोनों प्रधानमंत्रियों ने शुक्रवार को फिनलैंड और स्वीडन के बीच सहयोग के महत्व पर प्रकाश डाला।

फिनिश सरकार ने एक बयान में कहा, यह संबंध मौजूदा संकटों में विशेष रूप से महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। ठोस क्षेत्रों में जहां सहयोग को मजबूत किया जाना चाहिए, उनमें आपूर्ति की सुरक्षा विकसित करना और हाइब्रिड खतरों का मुकाबला करना शामिल है।

दोनों नेता इस बात पर सहमत हुए कि उनके देशों को लॉकस्टेप में नाटो में शामिल होना चाहिए।

क्रिस्टर्सन ने कहा, फिनलैंड, स्वीडन और तुर्की के बीच त्रिपक्षीय समझौता वैध है और हम उस समझौते के अनुसार अपने दायित्वों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। यह समझौता नाटो सहयोगियों के लिए फिनलैंड और स्वीडन को अपने रैंक में शामिल होने के लिए आमंत्रित करने का मार्ग प्रशस्त करता है।

बता दें, पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री बनने के बाद क्रिस्टर्सन की यह पहली विदेश यात्रा थी। उन्होंने फिनलैंड के राष्ट्रपति सौली निनिस्टो से भी मुलाकात की।

Leave feedback about this

  • Service