October 5, 2022
World

ईरान ने संकेत दिया, अमेरिका के साथ कैदियों की अदला-बदली को है तैयार

तेहरान, ईरान ने संकेत दिया है कि वह अमेरिका के साथ संभावित कैदी की अदला-बदली करने के लिए तैयार है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नासिर कनानी ने बुधवार को कहा, “हम इसके लिए तैयार हैं और परमाणु समझौते से स्वतंत्र होकर भी कई बार इसकी घोषणा कर चुके हैं।”

समाचार एजेंसी डीपीए के हवाले से बताया गया कि उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका ने अब तक इस मुद्दे पर सहयोग करने के लिए बहुत काम किया है।

उनके बयान को 2015 के वियना समझौते को बहाल करने के संभावित समझौते से जोड़ा गया था, जो ईरान को परमाणु हथियार बनाने से रोकता है।

उस समय मूल समझौते और प्रतिबंधों को उठाने के बाद एक कैदी की अदला-बदली हुई।

कई पश्चिमी नागरिक इस समय ईरान में जेल में हैं, जिनमें से अधिकांश ईरानी नागरिक हैं और उन पर जासूसी या राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने जैसे आरोपों का आरोप लगाया गया है।

इनमें दो अमेरिकी नागरिक भी शामिल हैं, जिनके पास ईरानी पासपोर्ट भी हैं। वे जासूसी के आरोप में लगभग सात साल से कुख्यात एविन जेल में कैद हैं।

तेहरान को परमाणु हथियार बनाने से रोकने के उद्देश्य से संयुक्त व्यापक कार्य योजना पहली बार 2015 में लागू हुई थी।

2018 में तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिका ने एकतरफा समझौते को छोड़ने का फैसला किया।

एक राजनयिक टूर डी फोर्स में अमेरिका, ईरान और अन्य देशों के प्रतिनिधि हाल के महीनों में समझौते को पुनर्जीवित करने की कोशिश कर रहे हैं।

एक संभावित सौदे के परिणामस्वरूप अमेरिकी प्रतिबंधों को हटा दिया जाएगा और 2015 के सौदे के समान तेहरान के परमाणु कार्यक्रम पर प्रतिबंधों की बहाली होगी।

Leave feedback about this

  • Service