December 3, 2022
World

आवासीय अपार्टमेंट में बदला जाएगा केंट का पुराना सिख मंदिर

लंदन,  केंट की एक जर्जर इमारत, जहां कभी सिख समुदाय पूजा करते थे, जिसे 2020 में विध्वंस से बचाया गया था, को अब आवासीय अपार्टमेंट में बदल दिया जाएगा।

ग्रेवेसेंड के क्लेरेंस प्लेस में गुरुद्वारे की शुरुआत 1960 के दशक में हुई थी, यहां 2008 तक सिख समुदाय के लोग पूजा करते थे और इसके बाद समुदाय सैडिंग्टन स्ट्रीट में नए परिसर में चले गए।

खाली हुई पुरानी इमारत को 2020 में विध्वंस से बचाया गया था। पार्षदों ने इस भूमि पर 19 फ्लैट वाली बिल्डिंग बनाने की योजना के खिलाफ मतदान किया था।

जुलाई में ग्रेवेशम काउंसिल को सौंपे गए नए आवेदन में मंदिर को गिराने के बजाय फ्लैटों में बदलने के लिए समायोजित योजनाओं की रूपरेखा तैयार की गई थी।

गुरु नानक दरबार गुरुद्वारा प्रबंधन टीम के एक प्रवक्ता ने केंट ऑनलाइन को बताया, हमें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि जीबीसी (ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल) ने मौजूदा भवन के रूपांतरण के लिए गुरुद्वारा के आवेदन को मंजूरी दे दी है। यह एक लंबी प्रक्रिया रही है, जिसमें पिछले 10 वर्षों में आवेदन और अपील जमा की गई हैं।

गुरुद्वारा को 14 आवासीय अपार्टमेंट, एक पुस्तकालय और बिन स्टोरेज सुविधाओं में बदला जाएगा।

1968 में सिखों के लिए पूजा स्थल बनने से पहले इमारत को मूल रूप से 1873 में मिल्टन कांग्रेगेशनल चर्च और लेक्चर हॉल के रूप में बनाया गया था।

2011 की जनगणना के अनुसार, ब्रिटेन में 420,196 सिख थे, जिनमें लंदन, ग्रेवेसेंड, बमिर्ंघम, बेडफोर्ड, कोवेंट्री, वॉल्वरहैम्प्टन, ब्रैडफोर्ड, लीड्स, डर्बी और नॉटिंघम में कुछ सबसे बड़े समुदाय थे।

माना जाता है कि 15,000 से अधिक सिख ग्रेवसेंड और आसपास के उपनगरों में रह रहे हैं, जो ग्रेवेशम की कुल आबादी का 15 प्रतिशत से अधिक है, जिसमें अब ग्रेवसेंड शामिल है।

केंट ऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब से कई सिख युद्ध के बाद ब्रिटेन आए और नदी के किनारे के शहर के पेपर मिल उद्योग और बाद में प्रमुख निर्माण परियोजनाओं जैसे डार्टफोर्ड टनल में काम किया।

केंट में आने वाले पहले सिखों पर 2002 के चैनल 4 डॉक्यूमेंट्री के अनुसार, अधिकांश सिख आवास पियर रोड में थे, जिसे सिख स्ट्रीट भी कहा जाता था।

1960 के दशक के अंत तक, सिख धार्मिक सेवाओं के लिए एडविन स्ट्रीट के एक घर में एकत्र हुए, और फिर क्लेरेंस प्लेस में गुरुद्वारे में चले गए।

सैडिंग्टन स्ट्रीट में नया सिख मंदिर यूरोप के सबसे बड़े गुरुद्वारों में से एक होने का दावा करता है।

यह नवंबर 2010 में खोला गया था और इसका निर्माण 18 मिलियन पाउंड की लागत से किया गया था। इसे स्थानीय समुदाय द्वारा फंड प्राप्त हुआ था।

Leave feedback about this

  • Service