December 5, 2022
World

सिंगापुर के सिख अमरदीप सिंह को 2022 गुरु नानक इंटरफेथ पुरस्कार से नवाजा गया

न्यूयॉर्क, सिंगापुर के सिख शोधकर्ता और डॉक्यूमेंट्री फिल्म निर्माता अमरदीप सिंह को वर्ष 2022 के लिए ‘द गुरु नानक इंटरफेथ पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया। न्यूयॉर्क की हॉफस्ट्रा यूनिवर्सिटी द्वारा दिया गया 50,000 डॉलर का पुरस्कार, जो हर दो साल में दिया जाता है, अंतरधार्मिक एकता को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण कार्यों को मान्यता देता है।

ईशर बिंद्रा और न्यूयॉर्क के ब्रुकविले में परिवार द्वारा 2006 में स्थापित, यह पुरस्कार विभिन्न धर्मों के बीच प्यार और एकता को बढ़ाने और समुदायों के बीच सहयोग को प्रोत्साहित करने के लिए है।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में जन्मे अमरदीप सिंह पत्नी विनिंदर कौर के साथ लॉस्ट हेरिटेज प्रोडक्शंस-सिंगापुर स्थित विजुअल मीडिया प्रोडक्शन हाउस चलाते हैं।

प्रोडक्शन हाउस भूली-बिसरी विरासतों के अनुसंधान और प्रलेखन पर केंद्रित है। सिंह ने दो किताबें लिखी हैं, जिनका शीर्षक है, ‘लॉस्ट हेरिटेज, द सिख लिगेसी इन पाकिस्तान’ और ‘द क्वेस्ट कंटीन्यूज’।

उन्होंने पाकिस्तान में सिख विरासत पर कुछ डॉक्यूमेंट्री फिल्में भी बनाई हैं। भारत और पाकिस्तान की एक टीम का नेतृत्व एक डॉक्यूमेंट्री ‘एलेगरी, ए टेपेस्ट्री ऑफ गुरु नानक ट्रेवल्स’ बनाने के लिए किया है।

द इंडियन पैनोरमा की रिपोर्ट के अनुसार, 14 नवंबर को न्यूयॉर्क के वुडबरी में एक औपचारिक पुरस्कार प्रस्तुति की योजना बनाई गई है।

देहरादून के दून स्कूल से शिक्षित सिंह ने शिकागो विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स किया।

25 वर्षों तक वित्तीय सेवा क्षेत्र में काम करने के बाद, उन्होंने क्रेडिट कार्ड व्यवसाय के राजस्व प्रबंधन के लिए अमेरिकन एक्सप्रेस में एशिया प्रशांत क्षेत्र का नेतृत्व किया।

तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा को दुनिया भर में अंतरधार्मिक संवाद और समझ को बढ़ावा देने के लिए 2008 में गुरु नानक पुरस्कार के पहले विजेता का नाम दिया गया था।

Leave feedback about this

  • Service