May 24, 2024
National

जेल जाने के बाद भी आलमगीर आलम का मंत्री पद पर बने रहना शर्मनाक : अरुण सिंह

रांची, 16 मई । भ्रष्टाचार के मामले में जेल जाने के बावजूद झारखंड के मंत्री आलमगीर आलम ने न तो इस्तीफा दिया है, न ही उनके खिलाफ सीएम ने कोई कार्रवाई की है। जिसे भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने बेहद शर्मनाक बताया है।

गुरुवार को रांची में झारखंड भाजपा के प्रदेश कार्यालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जब मंत्री आलमगीर आलम के पीएस और उनके नौकर के घर से 38 करोड़ मिले तो उनके पास कितने करोड़ की अवैध रकम होगी, यह समझना मुश्किल नहीं है। इसके बावजूद इस पूरे मामले में सीएम और कांग्रेस की ओर से कोई कार्रवाई न होना शर्मनाक है। इस राज्य में लैंड, सैंड, स्टोन और लीकर माफिया की सरकार चला रही है। राज्य के सीएम और मिनिस्टर जेल चले गए। दो आईएएस जेल में हैं। ऐसी हालत देश के किसी दूसरे राज्य में नहीं है।

उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव के चार फेज हो चुके हैं। इसमें ही पीएम मोदी के नेतृत्व में एनडीए ने बहुमत का आंकड़ा प्राप्त कर लिया है और आगे के चरणों में होने वाले चुनाव में हम 400 सीटों का लक्ष्य हासिल करने की तरफ बढ़ेंगे। आंध्र प्रदेश, बंगाल, तेलंगाना, ओडिशा और अन्य राज्यों में भाजपा को एकतरफा सीटों का लाभ हुआ है। झारखंड में 14 में से 14 सीटें जीतेंगे। देश की जनता ने पीएम मोदी पर विश्वास व्यक्त किया है। यही वजह है कि इंडी गठबंधन के नेता हताशा में अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। पीएम मोदी 23 सालों से लगातार मुख्यमंत्री-प्रधानमंत्री के पदों पर हैं, लेकिन, उन पर आज तक एक रुपए भी इधर-उधर करने का आरोप नहीं लगा।

अरुण सिंह ने आगे कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी चलती पार्लियामेंट के दौरान सैर-सपाटे के लिए थाईलैंड-इटली चले जाते हैं। दूसरी तरफ हमारे प्रधानमंत्री ने अपने पूरे कार्यकाल में एक दिन की भी छुट्टी नहीं ली। वह त्योहार भी सेना के जवानों के बीच मनाते हैं। तीसरी बार केंद्र में सरकार आने के बाद पूरे देश में हम यूसीसी को लागू करेंगे। इसके अलावा ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ को भी हम कार्यान्वित कराएंगे।

Leave feedback about this

  • Service