June 21, 2024
National

भाजपा को प्रशासनिक तंत्र और उनके घपलेबाजी के कारण वोट मिला : अखिलेश यादव

लखनऊ, 8 जून । समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा को जो भी वोट मिला है, उसका आधार जनता के वोट नहीं, बल्कि उनका प्रशासनिक तंत्र और उनकी घपलेबाजी है।

अखिलेश यादव ने शुक्रवार को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “उत्तर प्रदेश का संदेश नई उम्मीदों और नई अपेक्षाओं का जनादेश है। इस जनादेश को हम एक नए दायित्व के रूप में स्वीकार करते हैं। ‘इंडिया गठबंधन’ के सभी सांसद अपने कर्तव्य को बखूबी निभाएंगे, जनता हमारी प्राथमिकता है और सदैव रहेगी। जिम्मेदारी के इस नए अहसास के साथ प्रदेश के इंडिया गठबंधन के समस्त मत निर्वाचित-नव निर्वाचित सांसदों को बधाई और जनसेवा व सामाजिक न्याय के मिशन के संकल्प के साथ पीडीए परिवार को और भी मजबूत करके संविधान-लोकतंत्र-आरक्षण की रक्षा-सुरक्षा के लिए निरंतर आगे बढ़ते रहने के लिए अनंत शुभकामनाएं। सदैव याद रखें हर शोषित, पीड़ित, वंचित की सेवा ही हम सबका सर्वप्रथम कर्तव्य है।”

उन्होंने कहा, “हम मानते हैं कि हमारे जो भी प्रत्याशी भाजपाई-प्रशासनिक घपलों की वजह से जीत दर्ज नहीं कर पाए, दरअसल वो सब भी जीते हुए ही हैं। भाजपा को जो भी वोट मिला है उसका आधार जनता के वोट नहीं, बल्कि उनका प्रशासनिक तंत्र और उनकी घपलेबाजी है। लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में जनता ने ‘इंडिया गठबंधन’ के प्रत्याशियों को भरपूर समर्थन और सम्मान दिया है। इसलिए ऐसे सभी जुझारू प्रत्याशियों को हम जनता के सच्चे प्रतिनिधि के रूप में, किसी भी अन्य सांसद के बराबर मानते हुए, जनता द्वारा मत के रूप में उनको दिए गए सम्मान का मान करते हुए, आज से ‘सम्मांसद’ की जन-उपाधि से सुशोभित मानते हैं।”

उन्होंने आगे लिखा, “आने वाला समय उनका ही होगा। समस्त ‘मन निर्वाचित’-नव निर्वाचित सम्मांसदों को भी बधाई! इन समस्त मन-निर्वाचित सम्मांसदों को भी जनता से जुड़े रहने और हर शोषित, पीड़ित, वंचित की सेवा में लगे रहने के लिए अनंत शुभकामनाएं। एक बार फिर से उत्तर प्रदेश के सभी किसान, मजदूर, कारीगर, महिला, युवा, व्यापारी, कारोबारी, नौकरीपेशा, सरकारी कर्मचारी-अधिकारी के रूप में समस्त समझदार मतदाताओं को, इन सभी ‘सांसदों’ और ‘सम्मांसदों’ को मत और मन से चुनने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।”

Leave feedback about this

  • Service