July 18, 2024
National

केजरीवाल सरकार ने दिल्ली की शिक्षा प्रणाली को तहस-नहस किया : वीरेंद्र सचदेवा

धारवाड़ (कर्नाटक), 9 जुलाई । चर्चित योगेश गौड़ा हत्याकांड की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) कर रही है। इसी कड़ी में जांच करने सीबीआई की टीम धारवाड़ पहुंची। इस हत्याकांड में पूर्व मंत्री विनय कुलकर्णी आरोपी हैं।

गौरतलब है कि सीबीआई पहले ही कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है। हत्याकांड की जांच कर रही सीबीआई टीम का नेतृत्व राकेश रंजन कर रहे हैं। उन्होंने विशेष लोक अभियोजक गंगाधर शेट्टी से मुलाकात की।

फिलहाल यह मामला बेंगलुरु के कोर्ट में चल रहा है। केस से जुड़े गवाहों को बुलाने के लिए सीबीआई धारवाड़ पहुंची है। योगेश गौड़ा की धारवाड़ के उदय जिम में हत्या कर दी गई थी।

यह मामला साल 2016 का है। 15 जून 2016 को योगेश गौड़ा की हत्या की गई थी। परिवार ने इसका आरोप तत्कालीन मंत्री एवं कांग्रेस नेता विनय कुलकर्णी पर लगाया था। हालांकि सिद्धारमैया सरकार ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इस हत्याकांड को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने विरोध प्रदर्शन किया और चुनाव में इसको मुद्दा भी बनाया।

विनय कुलकर्णी कर्नाटक कांग्रेस के नेता हैं। वर्तमान में वो धारवाड़ निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं। 2023 कर्नाटक विधानसभा चुनाव में इन्होंने जीत हासिल की। इससे पहले साल 2014 के लोकसभा और 2018 के विधानसभा चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। सिद्धारमैया कैबिनेट में इनको खान मंत्री के रूप में सरकार में शामिल किया गया।

Leave feedback about this

  • Service