June 23, 2024
National

नीट यूजी की सीबीआई जांच की मांग, कांग्रेस, बीजेपी, लेफ्ट समर्थित छात्र संगठन कर रहे हैं प्रदर्शन

नई दिल्ली, 11 जून । हाल ही में संपन्न हुई नीट यूजी परीक्षा के खिलाफ देशभर के कई छात्र संगठन विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने इन परीक्षाओं में अनियमितता की बात कहते हुए सीबीआई जांच की मांग की है। लेफ्ट समर्थित छात्र संगठनों ने भी मामले की निष्पक्ष और तुरंत जांच की मांग की है।

नीट परीक्षा को लेकर कुछ ऐसा रूख कांग्रेस समर्थित एनएसयूआई का भी है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने एनटीए द्वारा आयोजित नीट यूजी परीक्षा-2024 के जारी किए गए परिणामों में आई व्यापक स्तर पर गड़बड़ी के खिलाफ सोमवार को दिल्ली के ओखला स्थित एनटीए के मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया।

लेफ्ट समर्थित छात्रों ने शिक्षा मंत्रालय के समक्ष प्रदर्शन कर अपना विरोध जताया। इन छात्रों ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को भंग और परीक्षा की निष्पक्ष जांच करने की मांग केंद्र सरकार से की है। एनएसयूआई ने भी केंद्र सरकार से तुरंत मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने सीबीआई जांच कराने की मांग की है। साथ ही एनटीए की सभी परीक्षाओं को पारदर्शी करने की मांग के लिए विभिन्न आवश्यक कदम उठाने की बात कही है।

विदित हो कि हाल ही में एनटीए द्वारा नीट यूजी- 2024 परीक्षा के परिणाम जारी किए गए थे। छात्रों का आरोप है कि जारी परिणामों में व्यापक स्तर पर गड़बड़ी तथा अनियमितता सामने आई है। पहली बार ऐसा हुआ है, जब जारी किए गए परिणामों में 67 छात्र टॉपर हैं। प्रथम स्थान के 7 छात्र हरियाणा के एक ही सेंटर से आते हैं। छात्रों ने पेपर लीक की भी संभावना जताई है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने गड़बड़ियों के खिलाफ एनटीए मुख्यालय पर प्रदर्शन किया तथा प्रशासन से मिलकर मामले की जांच सीबीआई से करवाने, जिन छात्रों को ग्रेस मार्क्स प्रदान किए गए उनकी स्पष्ट जानकारी साझा करने, भविष्य में परीक्षा केन्द्रों पर सुरक्षा बढ़ाने, परीक्षा सरकारी केंद्र पर आयोजित करने एवं सरकार द्वारा नियुक्त परीक्षा निरीक्षकों/पर्यवेक्षकों को केंद्रों पर नियुक्त करने की मांग भी रखी।

परिषद की राष्ट्रीय मंत्री शिवांगी खरवाल ने कहा कि पिछले कुछ समय से गड़बड़ियों को देखते हुए यह प्रतीत होता है कि एनटीए एक भ्रष्ट संस्था हो चुकी है। इस संस्था द्वारा आयोजित हो रही लगभग हर एक परीक्षा में कोई न कोई गड़बड़ी सामने निकलकर आ रही है। अभी हाल ही में नीट-यूजी के जारी परिणामों में प्रथम स्थान पर 67 छात्रों का आना तथा उसमें भी 7 छात्रों का एक ही केंद्र से होना मात्र संयोग नहीं हो सकता। यह दिखाता है कि यह संस्था भ्रष्टाचार में लिप्त होकर काम कर रही है। हम प्रशासन से इसकी सीबीआई जांच की मांग रखते हैं तथा आगे ऐसी स्थिति पैदा न हो इसकी स्पष्टता तथा सुनिश्चितता करने के लिए बिंदुवार अन्य मांग भी हमने प्रशासन से की है।

अभाविप दिल्ली के प्रांत मंत्री हर्ष अत्री ने कहा कि हाल ही में जारी नीट यूजी के परिणामों में आई व्यापक स्तर पर गड़बड़ियां सूचित करती है कि एनटीए संस्था किस प्रकार से अनियमितता तथा भ्रष्टाचार में लिप्त होकर काम कर रहा है। हमने एनटीए प्रशासन से मिलकर गड़बड़ियों को त्वरित रूप से दूर करने की मांग रखी है।

Leave feedback about this

  • Service