April 23, 2024
National

झारखंड में बिजली 7.6 फीसदी हुई महंगी, रेगुलेटरी कमीशन ने नई दरें की घोषित

रांची, 28 फरवरी । झारखंड में बिजली की कीमतों में 7.66 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। झारखंड स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन ने बुधवार को राज्य के बिजली उपभोक्ताओं के लिए नई दरों की घोषणा कर दी। नई दरें एक मार्च से प्रभावी हो जाएंगी।

रेगुलेटरी कमीशन ने जिस नई टैरिफ की घोषणा की है, उसके मुताबिक शहरी क्षेत्रों में घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति यूनिट 6.65 रुपये का भुगतान करना पड़ेगा। अब तक उन्हें 6.30 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से भुगतान करना पड़ता है यानी प्रति यूनिट 35 पैसे की वृद्धि की गई है।

ग्रामीण क्षेत्रों के घरेलू उपभोक्ताओं के लिए यह दर 6.30 रुपये प्रति यूनिट होगी। इसके अलावा कुछ श्रेणियों में फिक्स चार्ज में भी बढ़ोत्तरी की गयी है। घरेलू ग्रामीण के लिए फिक्स चार्ज 75 रुपये तय किया गया है। घरेलू शहरी के लिए 100 रुपये, घरेलू एचटी के लिए 120 रुपये और व्यावसायिक शहरी के लिए भी 120 रुपये का फिक्स चार्ज तय किया गया है।

नए टैरिफ में समय पर बिल भुगतान करने वालों के लिए राहत का भी ऐलान किया गया है। उपभोक्ता अगर पांच दिनों के अंदर बिल भुगतान करेंगे, तो 2 प्रतिशत छूट का लाभ मिलेगा। इतना ही नहीं, तय समय पर ऑनलाइन बिजली बिल जमा करने पर उपभोक्ताओं को 1 प्रतिशत की राहत मिलेगी। छूट की अधिकतम सीमा 250 रुपये तक रहेगी।

बताया गया है कि झारखंड राज्य बिजली वितरण निगम की ओर से टैरिफ में 39.71 फीसदी इजाफा करने का प्रस्ताव दिया गया था, लेकिन जांच और राज्य के विभिन्न प्रमंडलों में जनसुनवाई के बाद आयोग ने टैरिफ 7.66 फीसदी बढ़ाने पर मुहर लगाई।

गौरतलब है कि हाल में झारखंड सरकार ने 125 यूनिट तक की बिजली मुफ्त देने का ऐलान किया है। 27 फरवरी को पेश किए गए बजट में भी इसका जिक्र किया गया है। इसके अगले ही दिन बिजली की नई टैरिफ घोषित की गई है।

Leave feedback about this

  • Service