July 16, 2024
Haryana

गुरुग्राम प्राधिकरण ने विकास परियोजनाओं के लिए 2,887 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी

गुरुग्राम, 11 जुलाई गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) की विभिन्न बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए आज यहां वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए 2,887 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी गई।

बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी ने की और इसमें गुरुग्राम के सांसद राव इंद्रजीत सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भाग लिया।

सीसीटीवी कैमरे लगाने, नए जल उपचार संयंत्रों के निर्माण, मौजूदा संयंत्रों के उन्नयन तथा जल निकासी नेटवर्क और सीवेज उपचार संयंत्रों को मजबूत करने के लिए धन आवंटित किया गया है।

जीएमडीए ने 422 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से निगरानी और अनुकूल यातायात प्रबंधन के लिए सीसीटीवी परियोजना चरण-3 के कार्यान्वयन को मंजूरी दे दी है। इसके तहत विभिन्न स्थानों पर 10,000 उच्च गुणवत्ता वाले सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे, जिससे इनकी संख्या लगभग 4,000 से बढ़कर लगभग 14,000 हो जाएगी।

अधिकारियों ने यातायात की भीड़भाड़ कम करने के लिए सेक्टर 45-46-51-52 जंक्शन पर 52 करोड़ रुपये की लागत से फ्लाईओवर के निर्माण को भी मंजूरी दी है। इसी तरह, सेक्टर 85-86-89-90 चौराहे पर फ्लाईओवर के लिए 59 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

खिलाड़ियों के लिए अत्याधुनिक खेल अवसंरचना उपलब्ध कराने के लिए जीएमडीए ने गुरुग्राम के ताऊ देवी लाल स्टेडियम के उन्नयन को मंजूरी दे दी है, जिसकी अनुमानित लागत 634.30 करोड़ रुपये है। इस परियोजना का उद्देश्य खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध सुविधाओं और सुख-सुविधाओं को बढ़ाना है, जिसमें नए प्रशिक्षण केंद्रों, अत्याधुनिक खेल सुविधाओं आदि का निर्माण शामिल है।

चंदू बुधेरा में 78 करोड़ रुपये की लागत से 100 एमएलडी जल शोधन संयंत्र इकाई संख्या VI के निर्माण को भी मंजूरी दी गई है। इसके अतिरिक्त, प्राधिकरण ने बसई में 247 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 100 एमएलडी जल शोधन संयंत्र इकाई संख्या IV के निर्माण को भी मंजूरी दी है। धनवापुर में 119 करोड़ रुपये की लागत से मौजूदा मुख्य पंपिंग स्टेशन को 650 एमएलडी क्षमता तक बढ़ाने को भी मंजूरी दी गई है।

प्राधिकरण ने जीएमडीए क्षेत्र में संचालन के लिए सकल लागत अनुबंध मॉडल के तहत 69.66 करोड़ रुपये की लागत से 200 इलेक्ट्रिक बसों की खरीद को मंजूरी दी है। राष्ट्रीय राजमार्ग-48 के किनारे सेक्टर 76-80 में मास्टर स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम उपलब्ध कराने और बिछाने के लिए जीएमडीए ने 215 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। इसके अलावा, बहरामपुर में 120 एमएलडी सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और गुरुग्राम के धनवापुर में 100 एमएलडी एसटीपी के उन्नयन की परियोजना को क्रमशः 50.58 करोड़ रुपये और 75.46 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से मंजूरी दी गई है। बैठक के दौरान सेक्टर 107 में दो चरणों में 100 एमएलडी के दो एसटीपी के निर्माण के लिए 500 करोड़ रुपये का बजट भी आवंटित किया गया।

प्रमुख कृतियाँ सीसीटीवी कैमरे लगाने, नए जल उपचार संयंत्रों के निर्माण, मौजूदा संयंत्रों के उन्नयन और जल निकासी नेटवर्क तथा सीवेज उपचार संयंत्रों को मजबूत करने के लिए धनराशि आवंटित की गई है। फ्लाईओवर परियोजनाओं और इलेक्ट्रिक बसों की खरीद के लिए भी मंजूरी दी गई है।

Leave feedback about this

  • Service