July 9, 2024
National

हिमाचल उपचुनाव : भाजपा की जीत पक्की, कांग्रेस कर रही जासूसी : जयराम ठाकुर

शिमला, 9 जुलाई । हिमाचल प्रदेश में होने वाले उपचुनाव के लिए सोमवार को प्रचार थम गया। अब 10 जुलाई को जनता हमीरपुर, देहरा और नालागढ़ विधानसभा सीट पर अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए मतदान करेगी। चुनाव के नतीजे 13 जुलाई को आएंगे। भारतीय जनता पार्टी उप चुनाव में अपनी जीत के लिए आश्वस्त नजर आ रही है।

नेता प्रतिपक्ष और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि, हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ। प्रदेश में सत्ता के होने के बावजूद कांग्रेस को लोकसभा की चारों सीट पर हार मिली।

अभी जो उपचुनाव होने जा रहे हैं, उसमें भी यही नजारा दिखता है। प्रदेश सरकार पूरे दबाव में चुनाव करा रही है। सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल करके लोगों को धमकियां दी जा रही हैं। उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। अनावश्यक रूप से उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं।

यह आज से पहले कभी नहीं हुआ। साथ ही मैं इस बात को देखकर हैरान हूं कि हमारी पार्टी के जो कैंडिडेट हैंं, उनकी जासूसी कराई जा रही है।

हमारे एक विधायक ने बताया कि, जहां मुख्यमंत्री की पत्नी चुनाव लड़ रही हैं, वहां उनके साथ ऐसा व्यवहार किया गया, इससे उनकी जान को खतरा है। उन्होंने (कांग्रेस) ऐसी स्थिति हिमाचल प्रदेश में पैदा कर दी है। फिर भी मेरा मानना है कि हम तीनों सीटों पर जीतेंगे।

इस दौरान जयराम ठाकुर ने कांग्रेस की सुक्खू सरकार पर भ्रष्टाचार के भी आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि, कांग्रेस की सरकार ने अपने अब तक के कार्यकाल में भ्रष्टाचार की सारी सीमाएं तोड़ दी है। खनन माफियाओं को संरक्षण दिया जा रहा है। कुछ खास लोगों को संरक्षण दिया जा रहा है, जो जांच का विषय है।

एक्साइज पॉलिसी में भी बड़े-बड़े लोगों को फायदा पहुंचाया जा रहा है। टेंडर का लाभ किसी खास कंपनी, पार्टी और व्यक्ति को दिया जा रहा है। इन सब को लेकर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से जवाब मांगा जाता है, तो वो खामोश रहते हैं।

इस दौरान जयराम ठाकुर ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर भी हमला किया। उन्होंने कहा कि पूरा नॉर्थ ईस्ट कांग्रेस की तत्कालीन सरकार में जल रहा था। तमिलनाडु और केरल में बहुत लोगों की हत्या हुई। उन पर भी उन्हें चिंता व्यक्त करनी चाहिए। राहुल गांधी मणिपुर को लेकर जो कुछ भी कह रहे हैं, वो सिर्फ राजनीतिक मकसद के लिए कह रहे हैं।

Leave feedback about this

  • Service