June 21, 2024
National

निर्दलीय विधायकों ने पर्दे के पीछे की सौदेबाजी, क्षेत्र की जनता सिखाएगी सबक: हर्षवर्धन चौहान

शिमला, 11 जून । चुनाव आयोग ने हिमाचल प्रदेश में खाली हुई तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान किया है। प्रदेश की नालागढ़, देहरा और हमीरपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होंगे। निर्दलीय विधायक कृष्ण लाल ठाकुर, होशियार सिंह देहरा और आशीष शर्मा के इस्तीफे से खाली हुई तीन सीटों पर 10 जुलाई को वोटिंग होनी है और 13 जुलाई को नतीजे आएंगे।

दरअसल तीन 3 जून को विधानसभा स्पीकर कुलदीप सिंह पठानिया ने निर्दलीय विधायकों का इस्तीफा स्वीकार कर लिया था। निर्दलीय विधायक 22 मार्च को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देते हुए भाजपा में शामिल हो गए थे। ऐसे में उपचुनाव के ऐलान के बाद सियासत तेज हो गई है।

विधानसभा उपचुनाव को लेकर कैबिनेट मंत्री हर्षवर्धन चौहान का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव क्यों हो रहे यह बड़ा प्रश्न है। तीन निर्दलीय विधायकों को जनता ने जीताकर विधानसभा में भेजा। जनता ने इन्हें पांच साल के लिए चुना था लेकिन इन्होंने जनता को धोखा देने का काम किया। बतौर निर्दलीय विधायक विधानसभा में वह या तो सरकार का विरोध करते या समर्थन करते।

उन्होंने कहा कि पर्दे के पीछे क्या हुआ यह सब जानते हैं। प्रदेश सरकार को गिराने का असफल प्रयास किया गया। सब जानते हैं कि कैसे कांग्रेस के छह बागी विधायकों ने राज्यसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवार के खिलाफ वोट किया। जिसका नतीजा यह रहा कि कांग्रेस के बागियों को जनता ने नकार दिया।

उन्होंने कहा कि देहरा, हमीरपुर और नालागढ़ से चुनकर आये विधायकों ने पर्दे के पीछे सौदेबाजी की। मुझे उम्मीद है कि इस क्षेत्र की जनता इन्हें करारा जवाब देगी। विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुधवार को होगी, जिसमें आगे की रणनीति तैयार की जाएगी।

Leave feedback about this

  • Service