July 16, 2024
National

भारत जो लक्ष्य ठान लेता है, वो करके छोड़ता है : पीएम मोदी

नई दिल्ली, 9 जुलाई । पीएम नरेंद्र मोदी रूस और ऑस्ट्रिया की तीन दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर सोमवार शाम को मॉस्को पहुंचे, जहां पीएम मोदी का औपचारिक स्वागत रूस के प्रथम उप प्रधानमंत्री डेनिस मंटुरोव ने किया।

रूसी कलाकारों ने मॉस्को में प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में भारतीय गीतों की प्रस्तुति दी। राष्ट्रपति पुतिन ने सोमवार शाम पीएम मोदी के लिए एक निजी रात्रिभोज का भी आयोजन किया। पीएम मोदी रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ 22वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन की सह-अध्यक्षता करेंगे।

पीएम मोदी ने रूस के क्रेमलिन में अज्ञात सैनिक की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित किया और मॉस्को में प्रदर्शनी स्थल पर रोसाटॉम मंडप का भी दौरा किया। इसके बाद, पीएम मोदी वहां उपस्थित भारतीय प्रवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि आपका ये प्रेम, आपका ये स्नेह और आपने यहां आने के लिए समय निकाला, इसके लिए मैं आपका बहुत-बहुत आभारी हूं।

उन्होंने आगे कहा, “मैं यहां अकेला नहीं आया। मैं अपने साथ हिंदुस्तान की मिट्टी लेकर आया हूं। मैं अपने साथ 140 करोड़ देशवासियों का प्यार लेकर आया हूं। उनकी शुभकामनाएं आपके लिए लेकर आया हूं। यह बहुत ही सुखद है कि तीसरी बार सरकार आने के बाद भारतीय प्रवासियों से मेरा पहला संवाद मॉस्को में आपके साथ हो रहा है।

उन्होंने भारतीय प्रवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि 9 जून को मैंने पीएम पद की शपथ ली थी। आज 9 जुलाई को एक महीने होने को हैं। शपथ लेने के दिन ही मैंने एक प्रण किया था कि अपने तीसरे टर्म में मैं तीन गुनी ताकत से काम करूंगा। तीन गुनी रफ्तार से काम करूंगा। ये भी एक संयोग है कि सरकार के कई लक्ष्यों में भी तीन अंक छाया हुआ है। हमारा लक्ष्य भारत को तीसरी टर्म में दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी बनाना है। सरकार का लक्ष्य तीसरे टर्म में गरीबों के लिए तीन करोड़ आवास बनाना है, तीन करोड़ लखपति दीदी बनाना है।

उन्होंने कहा, “आप जानते होंगे कि आज का भारत जो लक्ष्य ठान लेता है, वो करके छोड़ता है। आज भारत वो देश है, जो चंद्रयान को चंद्रमा पर वहां पहुंचाता है, जहां दुनिया का कोई दूसरा देश आज तक नहीं पहुंचा पाया। भारत वो देश है, जो डिजिटल ट्रांजैक्शन का सबसे भरोसेमंद तकनीक दुनिया को दे रहा है। आज भारत वो देश है, जो सोशल सेक्टर की बेहतरीन पॉलिसी से अपने नागरिकों को सशक्त कर रहा है। आज भारत वो देश है, जहां दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम है।”

सभागार में उपस्थित लोगों ने ‘हर-हर मोदी, घर-घर मोदी’ के साथ ‘जय श्रीराम’ के भी नारे लगाए। साथ ही पीएम मोदी ने जगन्नाथ यात्रा के बारे में बताते हुए अपने स्कार्फ को दिखाकर बताया कि महाप्रभु जगन्नाथ जी का आशीर्वाद आप सभी पर बना रहे। धन्यवाद और आभार।

Leave feedback about this

  • Service