April 23, 2024
National

कर्पूरी ठाकुर के बेटे और चौधरी चरण सिंह के पोते ने किया पीएम मोदी का धन्यवाद

नई दिल्ली, 30 मार्च । राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने देश की चार महान हस्तियों – बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर, देश के पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव एवं चौधरी चरण सिंह और देश के प्रसिद्ध कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को को भारत रत्न से सम्मानित किया। इन चारों विभूतियों को मरणोपरांत यह सम्मान दिया गया है।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने देश के सबसे बड़े सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा उन्हें मरणोपरांत भारत रत्न सम्मान देने की घोषणा की गई थी।

शनिवार को राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में स्वर्गीय कर्पूरी ठाकुर के पुत्र रामनाथ ठाकुर ने यह सम्मान प्राप्त किया। कर्पूरी ठाकुर के बेटे रामनाथ ठाकुर ने भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देते हुए कहा कि भारत का सर्वोच्च सम्मान कर्पूरी ठाकुर जी को दिया गया है। यह बेहद ही गर्व की बात है। पूरे देश की जनता और बिहार की जनता यह मांग कर रही थी कि जननायक कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न मिलना चाहिए। जिसे आज भारत सरकार और प्रधानमंत्री ने पूरा किया है। मैं उनके परिवार, सभी साथ रहने वालों, बिहार की जनता की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद करता हूं।

साथ ही देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं किसानों के मसीहा माने जाने वाले चौधरी चरण सिंह को भी मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में उनके पोते जयंत चौधरी ने यह सम्मान प्राप्त किया। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की भारत रत्न मिलने पर आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने बताया कि आज राष्ट्रपति भवन की लाल कालीन पर चलने का मौका मुझे मिला है। आज मैने जो सम्मान ग्रहण किया है वो देश वासियों की तरफ से किया है। मैं भारत सरकार का बहुत-बहुत धन्यवाद करता हूं क्योंकि चौधरी चरण सिंह का सम्मान कर उन्होंने किसानों का सम्मान किया है।

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे सहित केंद्र सरकार के कई मंत्री एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Leave feedback about this

  • Service