July 9, 2024
National

दिल्ली की बसों में तैनात 10,000 से ज्यादा मार्शल परिवार नहीं चला पा रहे : आप

नई दिल्ली, 9 जुलाई । आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक संजीव झा और कुलदीप कुमार ने दिल्ली में चलने वाली बसों में पहले तैनात मार्शलों के बदतर हालात के बारे में बताते हुए एलजी पर आरोप लगाया है कि वो दोबारा इनकी नियुक्ति नहीं होने दे रहे हैं।

विधायक संजीव झा ने बताया है कि पहले होमगार्ड के जवानों की बस मार्शल के तौर पर तैनाती होनी थी। लेकिन, ऐसा नहीं किया गया। इसके बाद 10,000 से ज्यादा सिविल डिफेंस वालंटियर्स को बस मार्शल के तौर पर नियुक्त किया गया था। लेकिन, बीजेपी के एलजी के निर्देश पर इनके साथ सौतेला व्यवहार किया गया। इन नियुक्तियों को रद्द कर दिया गया। अब सिविल डिफेंस वालंटियर्स अपनी नौकरी के लिए सड़कों पर बैठे हैं।

संजीव झा के मुताबिक इस मामले में फरवरी में दिल्ली विधानसभा में एक प्रस्ताव लाया गया था और उसमें कहा गया था कि बस मार्शल की सेवाएं जारी रहेंगी। इस प्रस्ताव को विधानसभा से पास करके एलजी को भेज दिया गया था। लेकिन, बड़ा ही दुर्भाग्य है कि वो आज भी अपनी नौकरी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। साल 2023 में परिवहन सचिव ने एक नोट में लिखा था कि अब इन वालंटियर्स की जरुरत नहीं है। बसों में कैमरे और इमरजेंसी बटन लग गए हैं। लेकिन, परिवहन मंत्री उनकी बातों से सहमत नहीं थे और उन्होंने बस मार्शल की सेवाएं जारी रखने और उनकी बकाया तनख़्वाह देने की बात कही थी।

संजीव झा के मुताबिक दिल्ली के सभी बस मार्शल गरीब परिवार से आते हैं और आज वो अपने परिवार चलाने में भी नाकामयाब हैं। उन्होंने कहा कि मैं एलजी से निवेदन करना चाहता हूं कि आप हमसे राजनीतिक बदला लेना चाहते हैं तो लीजिए, लेकिन दिल्ली के इन बस मार्शलों और उनके परिवारों ने क्या बिगाड़ा है? आप मानवता और इनके परिवारों का ध्यान रखते हुए इन्हें नियुक्ति दीजिए।

उन्होंने कहा कि बस मार्शलों को लेकर फरवरी में जब दिल्ली विधानभवन से प्रस्ताव पास हुआ था और एलजी के पास भेजा गया था, तब हमें लगा था कि इन बस मार्शलों की नियुक्ति हो जाएगी। लेकिन, एलजी ने नियुक्ति नहीं होने दी। दिल्ली विधानसभा से बस मार्शलों की नियुक्ति का प्रस्ताव पास करके उपराज्यपाल के पास भेजा गया था। हमने सभी बातें विस्तार से बताई थी। हम आज एक बार फिर से मांग करते हैं कि वह इनकी नियुक्ति करें। इन सिविल डिफेंस वालंटियर्स ने दिल्ली के लोगों की सेवाएं की है।

Leave feedback about this

  • Service