July 18, 2024
National

पेपर लीक मामला : भाजपा आरोपियों को देती है संरक्षण : सपा प्रवक्ता फखरुल हसन

लखनऊ,11 जुलाई । पेपर लीक मामले में सुभासपा के विधायक बेदी राम और निषाद पार्टी के विधायक विपुल दुबे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ है। दोनों विधायकों समेत एक दर्जन से ज्यादा आरोपियों के अदालत में पेश नहीं होने पर कोर्ट ने उनके खिलाफ वारंट जारी किया।

वहीं इस मामले पर राजनीति भी शुरू हो गई है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता फखरुल हसन चांद ने भाजपा पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि, बेदी राम के खिलाफ पुराने मामले में वारंट जारी हुआ है। पहले भी उनका नाम पेपर लीक में आया था।

भारतीय जनता पार्टी की सरकार में पेपर लीक होते हैं। वो इसे लेकर नए-नए कानून भी बनाते हैं, लेकिन उनकी ही सहयोगी पार्टी के विधायकों पर पेपर लीक के आरोप लगते हैं।

भाजपा के साथ दागी विधायक मौजूद हैं, जो देश के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। उनका यह चरित्र पूरा उत्तर प्रदेश और देश देख रहा है। भाजपा ऐसे लोगों को अपने साथ रखती है और उन्हें संरक्षण देने का काम करती है।

विश्व जनसंख्या दिवस के मौके फखरुल हसन ने कहा कि, देश में बेरोजगारी और महंगाई की समस्या चरम पर है। बहुत सारे ऐसे मुद्दे हैं, जिनका कारण जनसंख्या है। सरकार को ऐसी नीति बनानी चाहिए, जिससे जनसंख्या कंट्रोल हो सके। लोगों की जनसंख्या के मुताबिक योजनाएं बनाए जाने की जरूरत है, ताकि सभी को मूलभूत सुविधाएं मिल सकें।

बता दें, साल 2006 में पेपर लीक मामले में यूपी एसटीएफ की टीम ने बेदी राम और विपुल दुबे को गिरफ्तार किया था। एसटीएफ ने दावा किया था कि, रेलवे ग्रुप डी परीक्षा का प्रश्न पत्र इन दोनों नेताओं के पास से मिला था। जांच के बाद पुलिस ने कोर्ट में आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी।

Leave feedback about this

  • Service