May 27, 2024
National

पटना में हजारों लोगों ने नम आंखों से दी सुशील मोदी को अंतिम विदाई, अंत्‍येष्‍टि में जेपी नड्डा भी पहुंचे

पटना, 15 मई । बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का पार्थिव शरीर मंगलवार को पटना पहुंचा। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ पटना के गंगा तट पर किया गया। इस मौके पर “सुशील मोदी अमर रहें” जैसे नारों से इलाका गूंजता रहा।

इससे पहले, उनके पार्थिव शरीर को भाजपा प्रदेश कार्यालय और विधानसभा ले जाया गया, जहां लोगों से लेकर एनडीए और विपक्ष के नेताओं ने अपने नेता के अंतिम दर्शन किए और श्रद्धांजलि दी। सुशील मोदी का पार्थिव शरीर दोपहर के बाद दिल्ली से पटना लाया गया। प्रदेश के दोनों उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी और विजय कुमार सिन्हा सहित प्रदेश भाजपा के कई दिग्गज नेता पटना हवाईअड्डा पहुंचे और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष और बिहार के उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी ने पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के निधन को पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति बताया। श्रद्धांजलि देने वालों में दोनों उपमुख्यमंत्री के अलावा विधानसभा अध्यक्ष नंद किशोर यादव, रविशंकर प्रसाद, मंत्री मंगल पांडेय, विवेक ठाकुर, नीरज बबलू, मनोज शर्मा सहित बड़ी संख्या में नेता शामिल हुए।

यहां से पार्थिव शरीर को फूलों से सजे एक वाहन से उनके निजी आवास पर लाया गया। राजेंद्र नगर स्थित निजी आवास पर सामाजिक लोगों और निकट संबंधियों ने उनके अंतिम दर्शन किए और श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके अलावा, अन्य रीति रिवाज का पालन करने के बाद उनका पार्थिव शरीर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ कार्यालय लाया गया। इसके बाद उनका पार्थिव शरीर विधानसभा परिसर लाया गया। यहां बड़ी संख्या विधायक और विधान पार्षदों ने अपने नेता के अंतिम दर्शन किए और उन्हें नम आंखों से श्रद्धांजलि दी। कई विधायक इस मौके पर भावुक हो गए।

विधानसभा में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई। यहां से पूर्व उपमुख्यमंत्री मोदी का पार्थिव शरीर भाजपा के प्रदेश कार्यालय लाया गया। यहां बड़ी संख्या में भाजपा के कार्यकर्ता अपने नेता के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ पड़े। भाजपा प्रदेश कार्यालय में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी पहुंचे और पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान उन्होंने पार्थिव शरीर को भाजपा के झंडे से लपेटा। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने शोक संतप्त परिवार से मुलाकात की और ढांढस बंधाया।

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी, अश्विनी चौबे, बिहार प्रभारी विनोद तावड़े, सह प्रभारी दीपक प्रकाश, क्षेत्र सह संगठन महामंत्री नागेंद्र पांडे, संगठन महामंत्री भीखूभाई दलसानिया, राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय मयूख, लोजपा (रा) के प्रमुख चिराग पासवान, पशुपति पारस, शाहनवाज हुसैन, नीरज कुमार बबलू, केदार गुप्ता, धर्मशीला गुप्ता, प्रदेश महामंत्री राजेश वर्मा, जगन्नाथ ठाकुर ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

विपक्ष के नेता भी भाजपा कार्यालय पहुंचे और पूर्व उपमुख्यमंत्री के अंतिम दर्शन किए और श्रद्धांजलि अर्पित की। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह, शकील अहमद, राजद के मनोज झा, अब्दुल बारी सिद्दीकी ने भी श्रद्धांजलि अर्पित की। यहां से उनका पार्थिव शरीर गंगा के दीघा घाट ले जाया गया, जहां उनके बड़े पुत्र उत्कर्ष तथागत ने मुखाग्नि दी। यहां दीघा घाट पर हजारों की संख्या में जुटे लोग अपने नेता को अश्रुपूर्ण नेत्रों से अंतिम विदाई दी। सुशील मोदी अमर रहे के नारे गूँजते रहे। इससे पहले दिवंगत नेता को गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

Leave feedback about this

  • Service