July 16, 2024
National

बंगाल में चार विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी, सीएपीएफ की तैनाती बढ़ाई गई

कोलकाता, 10 जुलाई। पश्चिम बंगाल में चार विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी है। इस बीच चुनाव आयोग ने केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) की तैनाती बढ़ाने का फैसला किया है।

शुरुआत में इन चारों विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनावों के लिए सीएपीएफ की कुल 55 कंपनियां तैनात करने का फैसला लिया गया था। अंतिम समय में चुनाव आयोग ने 15 अतिरिक्त कंपनियां आवंटित कर दीं। इसके बाद अब यह संख्या 70 हो गई है।

सबसे ज्यादा 20 पुलिसकर्मियों की तैनाती उत्तर 24 परगना जिले के बागदा में की गई है। इसके बाद नादिया के राणाघाट-दक्षिण में 19, उत्तर 24 परगना जिले के रायगंज में 16 और कोलकाता के मानिकतला में 15 पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।

चारों विधानसभा क्षेत्रों में कुल 1,097 मतदान केंद्र हैं, जिनमें से 142 संवेदनशील हैं। सबसे अधिक संवेदनशील मतदान केंद्र राणाघाट-दक्षिण में 62 हैं, इसके बाद बागदा में 39, मानिकतला में 21 और रायगंज में 20 मतदान केंद्र हैं।

सबसे अधिक संवेदनशील मतदान केंद्र राणाघाट-दक्षिण में 62 हैं। इसके बाद बागदा में 39, मानिकतला में 21 और रायगंज में 20 मतदान केंद्र हैं।

मतदान के पहले घंटे में किसी भी चार विधानसभा क्षेत्रों में मतदाताओं में ज्यादा उत्साह नहीं दिखा। बुधवार को मतदान के पहले घंटे में हिंसा या मतदान संबंधी अनियमितताओं की कोई रिपोर्ट नहीं मिली।

हालांकि, राणाघाट-दक्षिण से भाजपा उम्मीदवार मनोज कुमार विश्वास ने पत्रकारों से शिकायत की कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के बाइक सवार हथियारबंद समर्थक मंगलवार रात से ही निर्वाचन क्षेत्र में वोटरों को डरा-धमका रहे हैं। मैंने यह मामला चुनाव से संबंधित अधिकारियों के संज्ञान में ला दिया है। मुझे उम्मीद है कि पूरे दिन वोटिंग शांतिपूर्ण जारी रहेगी।

रायगंज, राणाघाट-दक्षिण और मानिकतला के उपचुनावों में तृणमूल कांग्रेस, भाजपा और कांग्रेस-वाम मोर्चा गठबंधन के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है।

हालांकि, बागदा के मामले में मुकाबला चतुष्कोणीय है, क्योंकि कांग्रेस और ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक दोनों ने वहां उम्मीदवार उतारे हैं।

Leave feedback about this

  • Service